PREVIOUS YEAR QUESTIONS PAPER

previous questions

Previous year question papers, Sainik Schools के entrance exams में महत्वपूर्ण भुमिका अदा करते है. इन्हें हम निम्न प्रकार से देख सकते है:

  1. Exam Pattern : जब हम Previous year question papers को पढ़ते है तो हमे बहुत सी चीजों का पता चलता है, जैसे exam pattern, structure और exam का format कैसा होगा. इन्हें बार बार पढने से एक aspirant बहुत ही familiar हो जाता है. उसे पता चल जाता है किस तरह का question पूछा जाता है , marking schemes कैसा होता है और time constraints को कैसे काबु में करना है.
  2. Understanding Syllabus : Previous year question papers  को study करने से आप ये identify कर पाते है की कौन सा topics / sections, important है, जिससे exam में frequently questions पूछे जा रहे है. इससे आप topics / sections को prioritize  कर पते है, और उस section पे ज्यादा ध्यान दे सकते, जिसमे अधिक weightage हो या जिसके exam में आने की संभावना अधिक हो.
  3. Identifying Trends and Patterns: आप जितना अधिक previous year question को analyse करते है आपको exam के trend और pattern के बारे में उतना ही अधिक पता चलता है. आप examiner के preferences को समझ पते है.
  4. Mock Test & Time Management: Previous year questions को solve करना actual exam का excellent practice होता हैं. इससे candidate का knowledge, speed और accuracy test हो जाता है. अगर candidate regular practice करे तो candidate को time management skills आ जाता है , इससे candidate सही मात्रा में समय हर एक section को दे पाते है, जिससे overall performance maximize हो जाता है.
  5. Assessing Strengths and Weaknesses: Previous year questions एक diagnostic tool की तरह काम करता है, इसके मदद से candidate अपनी strengths और weaknesses को सही तरीके से आक़ (assess) पते है. इन papers को solve करने से candidate अपने strong areas को identify कर, यह समझ पते है की इन areas में कम reivision से काम हो जायेगा. वो ये भी समझ पते है की कीन areas में उनको focused study की जरुरत है. इस self assessment से candidate अपने preparation strategy को fine tune कर अपने कमजोर areas को मजबूत कर सकते है.
  6. Confidence Booster: जब एक candidate Previous year questions को बार बार solve करता है to उसका confidence level high होता जाता है, परिणाम स्वरुप exam taking abilities बढती है. इसका सबसे बड़ा benefit, ये exam related anxiety को कम करता है. इसका एक बड़ा benefit ये भी है की इससे sense of preparedness और self assurance develop होता है.

हालाँकि, previous year questions paper मूल्यवान study resourses है, मगर ये तयारी का एक मात्र संसाधन नहीं होना चाहिए, candidate को साथ में study materials, textbook, mocktests आदि का भी सहारा लेना चाहिए.

 

CLASS VI 2023    DOWNLOAD HERE(33 downloads)

CLASS VI 2022    DOWNLOAD HERE(16 downloads)

CLASS VI 2021    DOWNLOAD HERE(14 downloads)

CLASS VI 2020    DOWNLOAD HERE(16 downloads)

CLASS VI 2019    DOWNLOAD HERE(14 downloads)